How to get MSME certificate | MSME के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे कराएं ।

अगर आप एमएसएमई के तहत अपने व्यवसाय का रजिस्टर्ड कराने के बारे में सोच रहे थे हम आपको यहां पूरी जानकारी देने वाले है आप MSME के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे कराएं MSME यानी कि माइक्रो स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज अधिनियम के तहत लाभ उठाने के लिए आपको अपने उद्योग को रजिस्टर करा लेना चाहिए। पहले एमएसएमई रजिस्ट्रेशन कराने के लिए बहुत चक्कर लगाने पड़ते थे लेकिन अब भारत सरकार के द्वारा एमएसएमई रजिस्ट्रेशन को ऑनलाइन कर देने की वजह से समय बहुत ही ज्यादा लाभ हुआ है अब आप घर बैठे ही एमएसएमई रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं भारत देश की अर्थव्यवस्था बड़े उद्योगों के साथ साथ छोटे लघु उद्योग और मध्यम वर्ग के लोगों पर भी बहुत निर्भर करती है कानूनी तौर पर अगर आपको यह होता है स्टोर शुरू करते हैं तो आपको एमएसएमई रजिस्ट्रेशन जरूर लेना चाहिए। भारत सरकार के द्वारा जो भी छोटे और मध्यम वर्ग के उद्योगपतियों को अपना व्यवसाय चलाने में ज्यादा परेशानी का सामना ना करना पड़े इसके लिए आसानी से हमें सभी पंजीकरण करने की सुविधा देती है।

MSME रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

get MSME certificate

MSME के अंतर्गत सभी छोटे व मध्यम वर्ग के व्यापारी आते हैं जोकि हजारों बेरोजगारों को रोजगार देकर भारत की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। भारत सरकार के द्वारा या राज्य सरकार के द्वारा किसी भी योजना के तहत एमएसएमई अधिनियम के तहत दिए जाने वाले सुविधाओं का लाभ लेने के लिए एमएसएमई रजिस्ट्रेशन होना बहुत आवश्यक है इसीलिए अभी तक आपने MSME रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है तो आपको करीला करा लेना चाहिए यह आपके रोजगार को चलाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है

MSME रजिस्ट्रेशन कराने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

अगर आप MSME रजिस्ट्रेशन कराने के बारे में सोच रहे हैं इसके लिए जिम डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है उनके बारे में जाने ना बहुत ही आवश्यक है एमएसएमई रजिस्ट्रेशन के लिए जो भी डॉक्यूमेंट की जरूरत होती है उनके बारे में बताया गया है।

  • पैन कार्ड की फोटो कॉपी
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट
  • ड्राइविंग लाइसेंस

इसमें कोई एक दस्तावेज आपके पास आपके पहचान पत्र के रूप में उपलब्ध होना चाहिए

  • पासपोर्ट साइज के फोटो अभी आपके पास होने चाहिए
  • अगर आप किराए की संपत्ति पर व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं किराया समझौता दस्तावेज होना चाहिए
  • अगर आपकी खुद की संपत्ति है तो उस के दस्तावेज
  • शपथ पत्र
  • घोषणा पत्र
  • साक्ष्य के रूप में 2 व्यक्ति

MSME के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे कराएं

एमएसएमई में पंजीकरण ऑफ दोनों तरीके से बना सकते हैं ऑफलाइन या ऑनलाइन यहां हम आपको दोनों तरीके बताने जा रहे हैं कि आप किस तरीके से ऑफलाइन या ऑनलाइन एमएसएमई रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

MSME रजिस्ट्रेशन ऑफलाइन कैसे कराएं

  • सबसे पहले आपको एक आवेदन पत्र सबसे पहले आपको एक आवेदन पत्र में मैं जिसमें आपकी सारी जानकारी भरी हो यानी जिस विभाग के लिए आप उद्योग शुरू करने जा रहे हो उसके संबंध में और उसके साथ सभी दस्तावेज लेकर आपको एमएसएमई ऑफिस में जाकर पंजीकृत करा लेना है।
  • इन दस्तावेजों और आवेदन पत्र को जमा करने से पहले आप किसी विशेषज्ञ के द्वारा इन्हें प्रमाणित करा लें
  • इसके बाद आप अपने सभी दस्तावेजों को जहां आप उद्योग शुरू करने जा रहे हैं उस जिले के डिस्टिक बिजनेस सेंटर में जमा कर दे।
  • आपके फार्म और दस्तावेज जमा करने के बाद डिस्ट्रिक्ट बिजनेस सेंटर के द्वारा आपके सारे डॉक्यूमेंट एमएसएमई रजिस्ट्रार दफ्तर में भेज दिए जाएंगे
  • वहां अधिकारियों के बाद सत्यापन किया जाएगा सत्यापन करने पर डॉक्यूमेंट सही जाए पाए जाने पर आप को एमएसएमई रजिस्ट्रेशन की स्वीकृति मिल जाएगी।
  • इसी के साथ आपका एमएसएमई रजिस्ट्रेशन हो जाएगा और इसकी जानकारी आपको डाक या मेल के द्वारा भेज दी जाएगी

ऑनलाइन MSME रजिस्ट्रेशन कैसे करें

  • ऑनलाइन एमएसएमई रजिस्ट्रेशन कराने के लिए आपको एमएसएमई के ऑफिशियल पोर्टल पर जाना है
  • यहां आने के बाद आपको एमएसएमई रजिस्ट्रेशन आवेदन फॉर्म भरना है।
  • इस फॉर्म को भरने के बाद आपसे जो भी डॉक्यूमेंट मांगे गए हैं वह सारे डॉक्यूमेंट आपको अपलोड कर देने है।
  • इसके बाद वहां के अधिकारी आपके द्वारा एमएसएमई पंजीकरण के लिए किए गए आवेदन के अनुसार आपके डॉक्यूमेंट कराया तैयार करेंगे इसमें एक-दो दिन का समय लग सकता है
  • इसके बाद आपके द्वारा किए गए आप ही दल पर डॉक्यूमेंट की सारी वेरिफिकेशन की जाएगी।
  • उस वेरिफिकेशन मैं अभी डॉक्यूमेंट सही पाए जाने पर आपके उद्योग को एमएसएमई के तहत पंजीकृत कर दिया जाएगा।
  • इसके बाद पंजीकृत से संबंधित सारे डाक्यूमेंट्स आपको डाक के द्वारा कोरियर के द्वारा या मेल से भेज दी जाएंगे।

MSME रजिस्ट्रेशन कराने के लाभ

  • बैंकों से बैंक से निम्न दर पर लोन मिल जाता है।
  • ओक्टोई और स्टांप ड्यूटी में लाभ मिलता है।
  • बिजली के बिल में छूट मिलती है।
  • आईएसओ प्रमाणन में सब्सिडी योजना है।

उम्मीद करते हैं ऊपर दी हुई जानकारी को पढ़ने के बाद एमएससी रवि स्टेशन से संबंधित सारी जानकारी आपको मिल गई होगी याद किस तरीके से एमएससी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं वैसे रिसेशन के क्या लाभ है ऐसी रजिस्ट्रेशन कराने के लिए किन-किन डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है सारी जानकारी आपको यहां पर मिल गई होगी।

Leave a Comment